NewsFriday

24×7 News On the Spot

News

UP: Engineering, polytechnic के निजी और सहायता प्राप्त संस्थानों में फीस नहीं बढ़ाने का फैसला


महामारी के मद्देनजर यूपी सरकार ने मंगलवार को तकनीकी शिक्षा विभाग के तहत चल रहे इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक के निजी और सहायता प्राप्त संस्थानों में शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए फीस नहीं बढ़ाने का फैसला किया। वर्तमान में राज्य में निजी इंजीनियरिंग संस्थानों के लिए शुल्क 70,000 रुपये से 1.2 लाख रुपये सालाना है।

सचिव, तकनीकी शिक्षा, आलोक कुमार ने कहा कि डिग्री प्रदान करने वाले 750 से अधिक इंजीनियरिंग कॉलेजों और डिप्लोमा प्रदान करने वाले 1,266 निजी और सहायता प्राप्त पॉलिटेक्निकों में फीस अपरिवर्तित रहेगी इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के लिए निजी पॉलिटेक्निक में वार्षिक शुल्क 28,000 रुपये है जबकि फार्मेसी के लिए 45,000 रुपये प्रति वर्ष है।

तकनीकी शिक्षा विभाग की एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार प्रवेश और शुल्क नियामक समिति ने 2018 में तीन साल के लिए 2020-21 तक पेशेवर डिग्री / डिप्लोमा पाठ्यक्रम प्रदान करने वाले निजी संस्थानों के लिए मानक शुल्क तय किया था।