NewsFriday

24×7 News On the Spot

News

गुरु ग्रह को मजबूत बनाने के लिए इन नियमों का पालन करें


बृहस्पति ग्रह को बराहस्पति भी कहा जाता है। उन्हें देव गुरु भी कहा जाता है। इसे विवाहित जीवन और भाग्य का कारक ग्रह माना जाता है। कहा जाता है कि यदि कुंडली में गुरु ग्रह मजबूत है, तो व्यक्ति के जीवन में सफलता मिलती है। इसके साथ ही, एक व्यक्ति के ठहराव का काम भी शुरू होता है। वहीं, अगर यह ग्रह कमजोर है तो जीवन में कई कठिनाइयां आती हैं। काम बिगड़ने लगा है। किसी भी काम में कोई प्रसिद्धि नहीं है। साथ ही आर्थिक परेशानी भी आती है। इसलिए चर्चा की कि गुरु ग्रह को कैसे मजबूत किया जाए।

ग्रह को इस तरह मजबूत करें:
1. हर गुरुवार शिव को बेसन के लड्डू चढ़ाएं। इसके द्वारा गुरु दोष समाप्त होता है।
2. गुरुवार का उपवास करें। पीले वस्त्र पहनें। इस दिन नमक का सेवन न करें। पीले रंग के व्यंजन जैसे बेसन के लड्डू, आम आदि खाएं।

3. at ब्रि ब्रिष्टाय नम: का जाप कम से कम 108 बार करें। यह गुरु मंत्र है।

4. इस दिन अपने सहयोग के अनुसार पीली चीजों का दान करें। इसमें सोना, हल्दी, चना दाल, आम (फल) आदि शामिल हो सकते हैं।

5. गुरुवार को सूर्योदय से पहले उठें और फिर विष्णु के सामने घी का दीपक जलाएं। विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें।

6. गुरुवार को शाम के समय एक केले के पेड़ के नीचे एक दीपक जलाएं। लड्डू या बेसन के लड्डू भी चढ़ाएं।

7. इस दिन माथे पर केसर का तिलक लगाएं। अगर केसर नहीं है तो हल्दी का तिलक लगाएं।